You are here
Home > Sohar > Bhojpuri Sohar geet lyrics in hindi:- घर में से निकली बहुरीया त अंगने बिस्तर डालेली हो

Bhojpuri Sohar geet lyrics in hindi:- घर में से निकली बहुरीया त अंगने बिस्तर डालेली हो

hindi sohar lyrics | Bhojpuri Sohar geet lyrics | sohar geet hindi lyrics | sohar hindi lyrics | sohar hindi mai lyrics | by Sarita lokgeet

इसे भी पढ़ें:-

Buy now

घर में से निकली बहुरीया त अंगने बिस्तर डालेली हो,ए ललना एक ओरी सुतली बहुरिया त एक ओरी बेटा न हो।

एक ओरी बाड़ी बहुरिया त एक ओरी बाडे बेटा न हो ए ललना बिचवा में बाड़े होरिलवा होरिलवा बड़ा सुंदर हो ।

मचियानी बइठली सासु त बहुआ से पुछेली हो ए बहुआ कवन कवन फलवा खईलू होरिलवा बड़ा सुंदर हो ।

केरवा के छुवबो ना कईनी नवरंगी नाही खइनी न हो, ए सासु फोरी फोरी खइनी नरियरवा होरिलवा बड़ा सुंदर हो ।

घर में से निकली ननदिया त भाभी से पूछे ली हो ए भाभी कवन कवन जतन कईलू होरिलवा बड़ा सुंदर हो।

भोरवा मे उठी नहअनी सूरूज गोडवा लगनी न हो ए ननदी ज्येठ लोग के कअनी सम्मान होरिलवा बडा सुंदर हो।

Leave a Reply

Top