You are here
Home > Sohar > Sohar geet in hindi lyrics: मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार

Sohar geet in hindi lyrics: मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार

Sohar geet lyrics | Sohar lyrics | Sohar geet in hindi lyrics | Krishn sohar in hindi lyrics | by Sarita lokgeet

इसे भी पढ़ें:-

मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार -2

बाहर से से आवे ले सास ससुर जी

बाहर से आवेले ससुर भसुर जी

बहुवा लडुआ हमके चिखाव लडुआ है सोठेदार -2

फोरत, फोरत मोरे अंगूरी पीरईले -2

अब सोलहग दिहल नहीं जात लडुआ है सोठेदार -2

मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार -2

बाहर से आवे ले देवर ननद जी -2

भाभी लडुआ हमके चिखाव लडुआ है सोठेदार -2

मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार

फोरत,फोरत मोरे अंगूरी पीरईले -2

अब सोलहग दिहल नहीं जात लडुआ है सोठेदार -2

मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार -2

बाहर से आवेले मोरे बलम जी -2

धनी हमके लडुआ चिखाव लडुआ है सोठेदार -2

अब पूरा दिहली धराए लडुआ है सोठेदार -2

मोरा नईहर से आवे हजार लडुआ है सोठेदार -3

Leave a Reply

Top